Online Education (ऑनलाइन पढाई )

Online Education

Take Some Precautions

थोड़ा सावधान रहें !

आज का टाइम इंटरनेट का है। वर्तमान में लगभग सभी ऑफिस, स्कूलों, बैंक आदि सभी जगह इंटरनेट का भरपूर यूज हो रहा है। सभी ओर इंटरनेट की धूम मची हुई है। चाहे वो गेम हों, पढ़ाई हो, राजनीति हो, फिल्में हो या सोशल मीडिया की बात हो। सब जगह नेट का ही बोलबाला है। ऐसे में ऑनलाइन एजुकेशन का भी काफी महत्व बढ़ गया है। इसमें कुछ तो बिल्कुल सही वेबसाइट हैं, और कुछ नकली या सिर्फ पैसा ऐंठने के लिये बनाई होती हैं। जाने- अनजाने में कई लोग इसका शिकार भी हो जाते हैं। टाइम और पैसे दोनों की बर्बादी से बचने के लिये कुछ टिप्स दिये जा रहे हैं –

1. ऑनलाइन पढ़ाई का अभी काफी क्रेज है। लोगों के पास कई बार फुलटाइम कोर्स के लिये पूरा टाइम निकालना मुश्किल हो जाता है, ऐसे में वे ऑनलाइन कोर्स ही पसंद करते हैं। ऑनलाइन कोर्स में डिमांड की वजह यह है कि इसमें टाइम भी कम खर्च होता है और रेगुलर कोर्स के मुकाबले फीस भी कम होती है। जिससे कोर्स आसानी से कंप्लीट हो जाता है। मगर ऑनलाइन कोर्स की भीड़ देखते हुऐ हमें थोड़ा जागरूक भी रहना पड़ेगा। वरना हमारा पैसा, टाइम, और लक्ष्य सब बेकार चला जायेगा। जो कोर्स हम करना चाहते हैं, उस वेबसाइट की ढंग से छानबीन करके ही उसमें कदम रखें। हो सके तो सम्बन्धित विभाग में भी कोर्स की और वेबसाइट की ढंग से जांच पड़ताल कर लेनी चाहिये।

2. इंटरनेट में इस टाइम सैंकड़ों फर्जी वेबसाइट का बोलबाला है। ऐसी बहुत सी वेबसाइट मिल जाएँगी जो प्रोफेशनल कोर्स, जॉब ओरिएंटेड कोर्स और एजुकेशनल कोर्स करा रही हैं। और इसके बदले मोटी फीस वसूल रही हैं। जबकि वो केवल कोचिंग तक ही होती हैं। ऐसे में इन वेबसाइटों की मान्यता और एफिलेशन के बारे में जरूर पता करें।

3. पोर्टल पर वैसे तो हर कोर्स के बारे में फीस की अवधि, उसका पेमेन्ट करने का तरीका , कोर्स का टाइम दिया होता है, फिर भी इन सब के बारे में अच्छी तरह समझ कर ही आगे बढ़ें। क्योंकि कई बार ऐसा कोई लिंक भी रह जाता है, जो उस टाइम समझ नहीं आता किन्तु आगे आपके एकाउंट से पैसा कट सकता है।

4. आपको अपने कोर्स के सिलेक्शन के बारे में जागरूक रहना होगा। अभी तक आपने जो भी पढ़ाई की है वह उसमें कितना मददगार होगा, यह अच्छी तरह जान लें।

5. वेबसाइटों पर सैंकड़ों तरह के आकर्षक कोर्स की भरमार रहती है। एक क्लिक पर अनेक प्रकार के कोर्स सामने आ जायेंगें, सभी एक से बढ़ कर एक लगेंगे। किन्तु आपको सावधानी से यह देखना है कि जिस सब्जेक्ट में आपका इंटरेस्ट है वही सिलेक्ट करें, बाकी छोड़ दें। यही आपके लिये अच्छा है।

6. स्टडी के दौरान कई तरह की प्रॉब्लम आती हैं। यह जरूर चैक करें कि आपको जो हेल्प मिल रही है वह किस लेवल की  है। वेबसाइट का हेल्प सिस्टम कैसा है, उसका स्टैंडर्ड जरूर देखें। यह आगे आपके काम आयेगा।

7. टाइम-टाइम पर govt. वेबसाइट को भी चैक करते रहें। उनसे भी काफी सीखा जा सकता है।

8. ऑनलाइन स्टडी के लिये आपके पास अच्छा लैपटॉप, अच्छी स्पीड वाला इंटरनेट, अच्छा मोबाईल या टेबलेट होना जरूरी है।

9. आजकल दो तरह की ऑनलाइन स्टडी करायी जाती है – (1). आपको रिकॉर्डिड लेक्चर दिये जाते हैं, जिन्हें आप देख भी सकते हैं और सुन भी सकते हैं – इनकी फीस थोड़ी कम होती है।

(2) दूसरे तरीके में आपकी ऑनलाइन क्लास होंगी जो आपके इंस्टीट्यूट के टाइम-टेबल के हिसाब से चलेंगी। ये क्लास आपके कोर्स के ड्यूरेशन के अनुसार एक से तीन घण्टे तक हो सकती हैं। इसमें टीचर आपको लाइव ऑनलाइन लेक्चर देंगें। इससे आपकी पढ़ाई काफी अच्छे ढंग से होगी। इसकी फीस थोड़ी ज्यादा होती है। मगर यह ऑनलाइन स्टडी का तरीका ज्यादा पॉपुलर भी है और इफैक्टिव भी है।

10. और अंत में सबसे इम्पोर्टेन्ट है कि ऑनलाइन पढ़ाई में आपको अपनी मेहनत , योग्यता से ही आगे बढ़ना होगा। केवल वेबसाइट पर ही निर्भर न रहें। अन्य सोर्स से भी अपनी एजुकेशन आगे बढ़ाते रहें। इसके अलावा सेल्फ स्टडी पर भी फोकस रखे|

Leave a Reply